Skip to main content

治療: - 歇斯底里症

gsirg.com                                                                                          helpir.blogspot.com

治療: - 歇斯底里症

     對於女性來說,這是一種秘密疾病,大多數年輕女性都會這樣做。因此,女性有很多麻煩。如果由於某種原因,女性的性慾未得到滿足,即性慾仍然是半免費的。因此,他得了這種病。如果沒有滿足性慾,女性被認為是自我滿足的。在這種狀態下,他們心中會感到沮喪。由於這個原因,疾病逐漸開始在體內擴散,最終它以其強大的形式出現。如果這種疾病發生一次,那麼很有可能克服它。

    一般症狀

        患有這種疾病的女性在任何時間,任何地點隨時都會失去知覺。在無意識的情況下,他的手腳開始膨脹。變得扭曲,臉變得變形。除此之外,泡沫開始從他的嘴裡流出。眩暈開始出現在生病的女性身上。病人開始說話,並在半瘋狂的狀態下大喊大叫。如果Rohini被要求看燈,那她就有麻煩了。有時他的身體也開始做不自然的活動。如果有人觸摸他的身體,那麼他非常痛苦。

   痛苦的疾病症狀

    患者呼吸困難,喉嚨疼痛,有時身體任何部位總有疼痛。羅希尼覺得空氣球在她的肚子裡被抬起。感覺到這一點後,他變得無意識。在疾病傳播的時候,他的精神狀態變得麻木。在疾病發生之前和之後,女性在心臟區域感到疼痛。她常常從嘴裡輕輕地走過來。羅希尼經常很痛苦,身體也會感到疼痛。

   由於疾病

   患有歇斯底里症的女性是性慾的主要症狀。除此之外,他體內缺乏血液。他的消化能力受到污染。這些症狀直接或間接地歸因於患者在患者中的哀悼。由於這些原因,這種疾病發生。

補救

       在治療患有這種疾病的婦女時,首先應考慮她的疾病原因和疾病的強度。在此之後,治療應該開始,患者必須始終保證他的疾病不是主要疾病。他很快就會治愈。如果這樣的想法出現在患者心中。這樣很容易治療。對於治療,醫生應該保持等量的Brahmi,Jatamansi,Cankhuppi,Azzandha和Balak的粉末。應根據患者的力量即Balab給予3至5克這種粉末的量。這樣的量應該每天給予兩次。這種藥可以在飯後與牛奶一起食用。這會導致疾病。因為每天都很困難,因此治療會持續很長時間。

    補充治療

      在飲用上述治療後,醫生應該用兩茶匙的Saraswatrava治療Rohini並將其服用於水中。除此之外,應該在早上和晚上一邊服用食物時推荐一盒Brahmi Vati和Amarasundari Vati。與此同時,患者應拒絕食用會增加空氣爆發的物質。在做這種療法後,患者有可能患上這種疾病。患者的家屬也應為患者安排乾淨的環境,乾淨的衣服和通風的房間。她的丈夫應該總是試著他應該和病人說話,並儘量避免在性交時的性慾。除此之外,家庭成員與受害婦女的行為應該是善意和同情她的。這也增加了改善患者精神狀況的機會,並且消除疾病所需的時間更少。

                                                                                                         Jai Ayurveda



我們要求您在閱讀後分享,以便更多人閱讀。謝謝

Comments

Popular posts from this blog

[ q/9 ] Tratamentul; O alternativă unică la sterilizare

web - gsirg.com

 Tratamentul; O alternativă unică la sterilizare

 Fiecare creatură din lume care a venit în această lume, el a câștigat definitiv copilarie, adolescenta, maturitate si batranete | Dintre acestea, dacă părăsim copilăria, atunci în fiecare etapă a vieții, fiecare creatură suferă de dorința sexuală. Cu excepția unui om determinat generație apel la alte creaturi, dar omul este o ființă care, în 12 luni ale anului, 365 de zile, 24 de ore, poate cicălitoare sex în orice moment | Cea mai dificilă sarcină a ființelor umane în această lume este să câștige "Cupid". Fiecare bărbat și femeie din această lume este absorbit de toți muncitorii și începe să facă nenorociri teribile în această lume. Se estimează că doar 70% din criminalitatea mondială este legată de acest lucru.


 Libido o tulburare puternică


  Cauza nașterii diferitelor tipuri de infracțiuni este dorința. Femeile și bărbații care suferă de această dorință sexuală nu ezită să facă diferite tipuri de crime în ac…

कबिरा शिक्षा जगत् मा भाँति भाँति के लोग।।भाग दो।।

प्रिय पाठक गणों आपने " कबीरा शिक्षा जगत मां भाँति भाँति के लोग ( भाग-एक ) में पढ़ा कि श्रीमती रामदुलारी तालुकेदारिया इण्टर कालेज सेंहगौ रायबरेली की प्रधानाचार्या, प्रबंधक, लिपिकों आदि के द्वारा किस प्रकार शिक्षा सत्र 2015--16 तथा शिक्षा सत्र2014--15 मे किस प्रकार लगभग उन्यासी छात्रों को फर्जी ढ़ंग से प्रवेश दिलाया गया । बाद मे इन्हीं छात्रों को अगले वर्ष इण्टर कक्षा की परीक्षा दिला दी गई। इसके लिए फर्जी कक्षा 12ब3 बनाई गई। बाकायदा फर्जी छात्रों का उपस्थिति रजिस्टर भी बनाया गया। परन्तु सभी छात्रों से प्रथम तथा द्वितीय वर्ष की कक्षाओं मे निर्धारित विद्यालय फीस लेने के बावजूद भी इसका विद्यालय के रजिस्टर पर इन्दराज नही किया गया। यह अनुमानित फीस लगभग साढ़े चार लाख रुपये के आसपास थी जिसे उपरोक्त अधिकारियों / विद्यालय के शिक्षा माफियाओं द्वारा अपहृत / गवन कर लिया hi गया। यथोचित कार्रवाई हेतु इस सम्पूर्ण विवरण को प्रार्थना पत्र मे लिखकर अपर सचिव के क्षेत्रीय कार्यालय इलाहाबाद को दिनाँक 25 /05 2016 को भेजा गया।
अब हम आपको इसके शर्मनाक पात्रों का परिचय करवा देते हैं।
       😢शर्मनाक…

पुराने बीजो का संरक्षण

नये खाद्यान्न बीजों या शंकर बीजों के आगमन के साथ खाद्यान्नों का उत्पादन अवश्य बढ़ा है।जिसके लिए हमारे कृषि वैज्ञानिक अवश्य ही बधाई के हकदार हैं।आज हम सवा अरब से अधिक लोगों को भरपेट भोजन देनें के अलावा निर्यात भी कर रहे हैं।जिस कारण हमें अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अधिक अन्तर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष प्राप्त हो रहा है।लेकिन भारतीय किसानों द्वारा अन्धाधुंध यूरिया और अन्य उर्वरकों तथा कीटनाशकों के प्रयोग के कारण कुछ देशों का बासमती चावल के आर्डर वापस लेना पड़ा है।जिसके कारण हमें अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर शर्मिंदगी उठानी पड़ी है।जो अवश्य ही चिन्ता का विषय है।कृषि वैज्ञानिकों द्वारा मृदा जांच द्वारा किसानों को प्रशिक्षित कर आवश्यक रसायनों के प्रयोगों के लिए किसानों को प्रशिक्षित किए जानें की आवश्यकता है।     हमारे पुराने जमाने के किसानों द्वारा पुराने बीजों एवं गोबर की खाद तथा खली से उत्पादित खाद्यान्नों एवं सब्जियों में जो गजब का स्वाद एवं सुगंध मिलती थी वह अब नये बीजों एवं उर्वरकों एवं कीटनाशकों से उत्पादित खाद्यान्नों एवं सब्जियों में नहीं पाई जाती है।वह स्वाद,सोंधापन, सुगंध अब धीरे-धीरे गायब होती …